Suhagrat Tips

Suhagrat Tips

suhagrat.co.in

सुहागरात टिप्स

सुहागरात की सजावट में रखें इन 3 बातों का विशेष ध्यान-

Suhagrat Tips, suhagrat hindi tips, first night tips

हर युवा पुरूष और युवती विवाह के प्रति बड़े ही जागरूक और उत्साहित रहते हैं। खासकर विवाह के बाद होने वाली अपनी पहली नाईट यानी सुहागरात को लेकर बहुत ज्यादा उतावले और जिज्ञासु बने रहते हैं, जोकि स्वाभाविक है।
हर व्यक्ति के जीवन में एक वक्त ऐसा आता है जब वह विवाह के बंधन में बंधता है और सुहागरात की घड़ी आती है। इस सुहागरात को लेकर लड़का और लड़की दोनों ही तहेदिल से व्याकुल रहते हैं और इस अनजाने एहसास को जीने की दिली तम्मन्ना रखते हैं।

आप यह हिंदी लेख suhagrat.co.in पर पढ़ रहे हैं..

सुहागरात में दोनों ही अपने-अपने तरीके से कुछ न कुछ मन-ही-मन प्लानिंग करते रहते हैं कि ऐसा कहेंगे, ऐसा करेंगे। घबराहट भी होती है कि कैसे कहेंगे, क्या होगा, सुहागरात सफल होगी कि नहीं होगी..आदि। सभी बातों का दूल्हा-दुल्हन विशेष ध्यान रखते हैं। यहां तक विवाह के प्रारम्भ से लेकर विवाह सम्पन्न होने तक सभी प्रकार की शाॅपिंग, ज्वैलरी वगैरह की खरीद को लेकर प्री-प्लानिंग भी करते हैं। इन सब बातों का तो विशेष ध्यान दिया ही जाता है। मगर एक खास बात और होती है जिसे सुहागरात में जरूर ध्यान रखना चाहिए और वो है, दूल्हा-दुल्हन के सुहागकक्ष की सजावट को लेकर। यानी जिस कमरे में सुहागरात मनाई जानी है, उस कमरे की सजावट कैसी हो, इस बात का ध्यान परिवार में दूल्हे के भाई, यार रिश्तेदारों को रखना चाहिए।

सुहागरात में कमरे की सजावट में रखें इन 3 बातों का ध्यान-

Suhagrat.co.in

1. बिस्तर की सुंदरता का रखें ध्यान :

सुहागरात में पति-पत्नी बिस्तर पर ही पूरी रात एक साथ गुजारते हैं, जो जाहिर है कि ऐसे में बिस्तर की साजढावट भी होनी चाहिए खास। इसके लिए आप अपने बिस्तर को रंग-बिरंगे खुबशूदार फूलों से सजा सकते हैं। इसके अलावा बूके, फूलों की झालर भी इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर संभव हो और एक-दूसरे की रजामंदी को जानते हों, तो वाइन भी सरप्राइज के रूप में एक विकल्प रख सकते हैं। कुछ नयापन चाहने का शौक रखते हैं तो फूलों की झालर का प्लान कैंसिल करके आप नेट के पर्दे और साटन की खूबसूरत चादर के प्रयोग से सुहागकक्ष को आकर्षक बना सकते हैं।
इस बात का भी ख्याल रहे कि कहीं बिस्तर सजाने के चक्कर में अपने आरामजनक सुविधा को भूल जाओ। यानी बिस्तर कोई भी बिछा हो, मगर सुविधाजनक होना चाहिए। ऐसा न हो कि बिस्तर आप दोनों ही आरामदायक महसूस न करें और दोनों को ही असुविधा होे।

यह भी पढ़ें- संभोग

2. रोमांटिक पहलू का भी रखें ध्यान :

सुहागकक्ष की साज-सज्जा के लिए कुछ हट कर करने की तमन्ना रखते हैं, तो आप किसी विशेष थीम को मध्यनज़र रखते हुए भी कमरे को अंदर से सजा सकते हैं। यह पहली रात पति-पत्नी दोनों के लिए बहुत खास और प्यार भरी रात होती है, इसलिए थीम को इसी के अनुसार ध्यान में रखें और कमरे की सजावट करें।
सुहागरात को रोमांटिक बनाने के लिए सुहागरात के कमरे का वातावरण भी रोमांटिक होना आवश्यक है। कमरे की दीवारों का रंग भी बनाता है माहौल को खुशनुमा और रोमांस से भरपूर, इसलिए दीवारों के रंगो का भी रखें ध्यान। पति-पत्नी के लिए कमरा सजाने के दौरान प्रयास करें कि दीवार के लिए पिंक, क्रीम या पेस्टल कलर का चुनाव करें। दीवारों के कलर के अनुसार ही कमरे के पर्दे और चादर चुनें।

3. अतिरिक्त प्रयास करें :

सुहागरात का पल होता है पति-पत्नी के लिए बहुत ही खास, इसलिए इसको हसीन बनाने के लिए अपनी ओर से कोई कोर-कसर न छोड़ें। हर छोटी बात का रखें ध्यान जैसे कि कमरे में रोशनी बहुत अधिक न हो, डिम लाइट हो, सुहागकक्ष में मॉड्यूलर लाइट्स हों, तो बात ही अलग है।
इसके अलावा कैंडल्स जलाकर भी माहौल को रोमांटिक बनाया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *