Suhagrat Ke Liye Hindi Tips

Suhagrat Ke Liye Hindi Tips

Suhagrat.co.in

सुहागरात के लिए हिंदी टिप्स

सुहागरात में पति-पत्नी करें ये चीजें

अगर आप शीघ्र ही विवाह के बंधन में बंधने जा रहे हैं, तो आपके मन में सुहागरात खासकर सुहागरात में होने वाले सेक्सुअल एक्टिीविटी को लेकर बहुत ज्यादा उत्साह होगा, बेचैनी होगी और कई सवाल होंगे।
अधिकतर पुरूष सुहागरात को लेकर इसी सवाल को लेकर ज्यादा चिंतित रहते हैं कि आखिर उनकी पार्टनर राजी कैसे होगी और शुरूआत कैसे होगी? अगर मैंने शुरूआत की और तो कहीं उसे ये तो नहीं लगेगा कि मैं सेक्स के लिए मरा जा रहा हूं, मेरे अंदर भावनाओं की कमी है। आखिर क्या सोचेगी मेरे बारे में..?
ठीक इसी प्रकार स्त्रियां भी सोचती हैं कि क्या वो(पति) पहले शुरूआत करेंगे या मुझे ही शुरूआत करनी चाहिए। अगर मैंने पहल की तो कहीं मेरे चरित्र पर तो उनको शक नहीं हो जायेगा इत्यादि।

वैसे दुल्हन की सहेलियां और दूल्हा के यार-दोस्त इन सब बातों को लेकर हंसी-ठिठोली करते रहते हैं। लेकिन देखा जाये तो यह मजाक नहीं होता, यह तो यह तो जीवन का एक अहम उपयोगी हिस्सा होता है, जिससे दो लोग जिस्मारी और रूहानी तौर पर एक-दूसरे के करीब आकर तांउम्र के लिए जुड़ जाते हैं।

अगर साफ, सरल और स्पष्टवादिता के साथ कहा जाये तो स्त्री और या पुरूष दोनों ही शादी के बाद अपनी पहली रात जिसे भारतीय परम्परा के अनुसार सुहागरात के नाम से जाना जाता है, को लेकर बहुत ज्यादा एक्साइटमेंट रहते हैं। खासकर सेक्स को लेकर। तो घबरायें नहीं, हम इस हिंदी आलेख में आपको बहुत ही कमाल के टिप्स के बारे में बता रहे हैं। इनका अनुसरण करें और बनायें अपनी सुहागरात को एक यादगार रात।

आप यह आर्टिकल suhagrat.co.in पर पढ़ रहे हैं..

खुशनुमा और रोमांटिक सुहागरात के लिए जरूरी टिप्स:

Suhagrat Ke Liye Hindi Tips

 सुहागरात को शुरूआत पुरूष ही करे ऐसा जरूरी नहीं है। प्रेम या फिर बातचीत की शुरूआत दोनों साथ में मिलकर भी कर सकते हैं। यदि एक-दूसरे का पूर्ण सहयोग दोनों करेंगे तो दोनों की उत्सुकता शांत होगी और कोई चिंता या भय मन में नहीं रहेगा।

 ध्यान रखें कि सुहागरात का नाम सुनते ही बहुत अधिक एक्साइट न हों। धैर्य रखें और अपने व्यवहार को भी सामान्य ही रखें। अपने ही ख्यालों की खिचड़ी न पकायें। इस रात जो भी हो उसमें खुश और संतुष्ट रहें।

 सुहागरात को संभोग से पूर्व अगर मन में किसी भी तरह की कोई शंका या सवाल हो, तो उसे पहले ही आपसी बातचीत से हल कर लें। अन्यथा आनंद की अनुभूति नहीं होगी और सेक्स केवल औपचारिकता बनकर रह जायेगी।

दोनों नवविवाहित पति-पत्नी के मध्य उम्रभर का रिश्ता है, तो सुहागरात की शुरूआत प्रेम और विश्वास के साथ अच्छे से करें। ताकि भविष्य में वैवाहिक जीवन में खुशहाली बनी रहे।

यह भी पढ़ें- संभोग

उपहार का इस रात में अपना ही एक अलग महत्व होता है। अपने पार्टनर को उनकी पसंद का अथवा अपनी पसंद का कोई न कोई गुप्त उपहार या भेंट अवश्य दें। इससे बातचीत का सिलसिला भी बढ़ेगा और रात भी रोमांटिक हो जायेगी।

संभोग से पूर्व अपने पार्टनर को विश्वास में लें और कोई उतावलापन न दिखायें। धीरे-धीरे आगे बढ़ें। इसके लिए फोरप्ले कर सकते हैं। ताकि आपकी पार्टनर पूर्ण रूप से उत्तेजित हो सके और संभोग में सहजता का अनुभव कर सके।

ध्यान रहे कि संभोग के समय अधिक उतावलेपन में अनाप-शनाप असुविधाजनक आसनों का प्रयोग न करें और न ही दबाव डालें। यह संभोग का मजा किरकिरा कर सकता है।

यह भी पढ़ें- मर्दाना ताकत पायें

अगर सुहागरात में सेक्स को लेकर आप की सोच यह है कि सेक्स के विषय में चटपटी बातें करने से आपकी छवि एक बोल्ड बनेगी तो ऐसा जरूरी नही है। इससे आपकी आपसी समझदारी व तालमेल भी बिगड़ सकता है।

आखिर में सबसे अहम और खास बात का ध्यान जो आपको रखना है, वो यह है कि अपने पार्टनर के साथ किसी भी चीज में जबदरस्ती न करें। सेक्स के दौरान तो बिल्कुल भी न करें। अपने साथ ही की भावनाओं की कद्र करें। उसका सम्मान करें। इससे वो आपकी जिदंगीभर के लिए मुरीद बन जायेगी।

सेक्स समस्या से संबंधित किसी भी अन्य जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें..http://chetanonline.com/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *