First Night Ki Tension

First Night Ki Tension

suhagrat.co.in

शादी की पहली रात की घबराहट

सुहागरात हर नव-दम्पत्ति के लिए एक बहुत ही खास पल होता है, जिसको लेकर दोनों के मन में ना जाने कितने ही अरमान, प्रश्न और सपने होते हैं। इसके साथ ही झिझक व घबराहट भी होती है। लड़कियों में तो सुहागरात को लेकर मन में बेचैनी, डर और उत्सुकता रहती ही है, वहीं पुरूषों में सबसे ज्यादा एक्साइटमेंट और घबराहट का मिलाजुला भाव देखने को मिलता है।
आइए जानते यहां कुछ ऐसे उपाए, जो सुहागरात में आपके लिए काफी मददगार साबित हो सकते हैं।

1. कुछ पल एकांत में बिताएं
सुहागरात को लेकर आपके मन में बहुत से ख्याल, प्रश्न और दुविधाएं हो सकती हैं। इसके लिए आप इस स्थिति को यानी सुहागरात को संभालने के लिए कुछ देर अकेले में व्यतीत करें। खुद से बात करें और मानसिक रूप से खुद को तैयार करें। इस बीच महसूस करें कि कौन सी चीज या ऐसी कौन सी बात है, जो आपके असहजता का अहसास करा रहा रही है या फिर करा सकती है, उसे दूरे कर लें और मानसिक तौर पर शांत रहें।

2. ये डर और घबराहट कैसी?
सुहागरात को लेकर अगर आप बहुत ज्यादा झिझक रहे हैं या घबराये हुए हैं, तो इस रात को आप खुद से यह पूछें कि ऐसा क्यों हो रहा है आपके साथ? खुद से जवाब मागें इस प्रश्न का और खुद ही स्वयं को जवाब भी दें। ऐसा करने से आप खुद को सुहागरात के तनाव से मुक्त पाने में सफल रहेंगे। इसके अतिरिक्त आप अपने किसी बहुत ही खास, विश्वासपात्र मित्र या करीबी रिश्तेदार से बात करके अपनी घबराहट को दूर कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें- धात रोग

3. सुहागरात में संभोग की सही जानकारी
सुहागरात में सेक्स व संभोग को लेकर अगर ये आपका पहला अनुभव है, जिस कारण आपके मन में तरह-तरह की शंकाएं हैं, तो सबसे पहले आपको इसकी सही जानकारी होना जरूरी है। अगर पहले से जानकारी नहीं है और सीधे सुहागरात में ये अभ्यास करने वाले हैं, तो इसके लिए अपने पार्टनर को विश्वास में लेकर उनसे भी बात कर सकते हैं। एक-दूसरे से इस विषय में पूछ सकते हैं कि पहली रात वो आपसे क्या उम्मीद करते हैं।

यह आर्टिकल आप suhagrat.co.in पर पढ़ रहे हैं..

First Night Ki Tension

4. पार्टनर के विषय में पूरी मालूमात हो
विवाह के रूप में आप एक नए रिश्ते में बंधने जा रहे हैं, तो आपको अपने साथी के विषय में हर स्तर पर पूरी जानकारी होना अति आवश्यक है। अगर आप अपने पार्टनर की हर छोटी-बड़ी बातों जैसे उनकी पसंद-नापसंद, आदतें, उनके दिल को सुकुन पहुंचाने वाली बातें जान जायंेगे, तो आप उनसे मानसिक, भावनात्मक, शारीरिक, सेक्सुअली रूप से अच्छी तरह जुड़ पायेंगे। इससे आपका आपसी रिश्ता मजबूत होगा और वैवाहिक जीवन भी खुशियों से भर जायेगा।

First Night Ki Tension

5. अपने साथी से अपनी सोच शेयर करें
ये जरूरी नहीं कि आप पहली रात पर ही सबकुछ जान जाएं। बल्कि आप धीरे-धीरे एक-दूसरे को जानने की कोशिश करें। आप अपने पार्टनर के बारे में क्या सोचते हैं, अपनी शादी के बारे में क्या सोचते हैं, इन सभी बातों के बारे में उनसे बात करें।

6. सेक्स काउंसलिंग
सुहागरात में संभोग के लेकर मन में अगर बहुत ज्यादा डर या घबराहट है तो आप विवाह से पूर्व सेक्स काउंसलिंग ले सकते हैं। ऐसा करने से आपकी घबराहट और डर में कमी होगी। इसके अलावा आपको अपने वैवाहिक जीवन को समझने में सहजता महसूस होगी। विवाह के बाद पति-पत्नी के बीच संभोग उनके वैवाहिक जीवन और आपसी रिश्ते की अहम कड़ी होती है, इसलिए इस विषय में जानकारी हासिल करने में कैसी शर्म।

7. विवाह को केवल सुहागरात से जोड़कर ना देखें
विवाह कुछ पल या कुछ दिनों का संबंध नहीं होता है। यह तो जीवनभर का साथ होता है, जिसे पति और पत्नि दोनों को एक साथ मिलकर गुजारना और निभाना होता है। वैवाहिक रिश्ता केवल पति-पत्नी के बीच के रिश्तों को ही मजबूत बनाना नहीं होता, बल्कि एक परिवार की मजबूत नींव रखना भी होता है। इसके लिए पति-पत्नी को शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक रूप से एक होने की आवश्यकता होती है। कोशिश करें कि सुहागरात ही यादगार ना बनें, बल्कि आपका पूरा जीवन ही एक यादगार बनकर रह जाए।

सेहत से संबंधित अन्य जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.. http://suhagrat.co.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *