First Night Ke Hindi Tips

First Night Ke Hindi Tips

suhagrat.co.in

फर्स्ट नाईट के लिए जबरदस्त हिंदी टिप्स

सुहागरात को ऐसे बनायें एक यादगार रोमांटिक रात

स्त्री हो या फिर पुरूष दोनों की जिंदगी में एक ऐसा अवसर आता है, जब वह शादी करते हैं और सुहागरात का आनंद उठाते हैं। सुहागरात दोनों के लिए ही बहुत खास रात होती है। दोनों ही इस इस रात के लिए बेसब्रे, उत्सुक और जिज्ञासु रहते हैं। सुहागरात में दो लोग(लड़का और लड़की) विवाह के बाद प्रथम रात्रि में प्रथम शारीरिक मिलन करते हैं और एक-दूसरे को अच्छे से समझने और जानने का प्रयास करते हैं।
जो स्त्री-पुरूष आपस में एक-दूसरे का विश्वास और दिल जीतकर संभोग करते हैं वो तो अपनी सुहागरात को एक यादगार बनाने में सफल रहते हैं, मगर जो लोग ऐसा नहीं कर पाते, उनके लिए यह रात एक कड़वी याद बनकर रह जाती है।

अगर आप भी शीघ्र ही विवाह के बंधन में बंधने वाले हैं या फिर वाली हैं, तो यह हिंदी आलेख आ सकता है आपके बहुत काम। इस हिंदी लेख में आपको बताये जा रहे हैं सुहागरात से जुड़े कुछ बहुत ही खास टिप्स, जिनका अनुसरण करके आप भी बना सकते हैं अपनी सुहागरात को हसीन, रोमांटिक और यादगार रात।

आप यह आर्टिकल suhagrat.co.in पर पढ़ रहे हैं..

अधिक काल्पनिक न हों-

कई लोग होते हैं जो फिल्मों में दिखाये जाने वाले सुहागरात के दृश्यों या फिर दोस्तों या सहेलियों से सुने हुए नाटकीय किस्सों से अपनी ओर से ज्यादा ओवर रियेक्ट करने लगते हैं। ऐसा कुछ नहीं होता है। आप जैसे हैं वैसे ही रहें, क्योंकि सुहागरात भी अन्य दिनों की तरह ही सामान्य होता है और गुजरता है। इसलिए इसे हव्वा न बनायें और धैर्य से धीरे-धीरे आगे बढ़ें और अपने साथी के साथ सहजता का अनुभव करने का प्रयास करें।

बातों का सिलसिला रखें-

अगर आपकी अरैंज मैरिज है, तो इस बात का विशेष ख्याल रखें कि सुहागरात में सीधे सेक्स के लिए उतावले न हो जायें। पहले एक-दूसरे के साथ सहज होने का प्रयास करें और धीरे-धीरे एक-दूसरे के प्रति पूर्ण विश्वास पैदा होने दें। तब कहीं जाकर एक-दूसरे को भरोसे में लेकर और इच्छा जानने के बाद ही सेक्स करने की सोचें। अगर आप सीधा सेक्स करने लगेंगे तो हो सकता है इससे आपकी छवि आपके पार्टनर के प्रति खराब हो जाये। उसे लगेगा कि आपको केवल शारीरिक आकर्षण है, भावनाओं की कोई कद्र नहीं है आपको।

अगले दिन का थकावट भरा या व्यस्तता वाला प्रोग्राम न रखें-

अक्सर देखा गया है कि शादी की भारी रस्में निभाने के बाद भी सुहागरात के अगले दिन भी कोई न कोई रस्म या प्रोग्राम बनता ही रहता है। जैसे- अगले दिन घर में कोई पूजा का आयोजन या फिर कहीं बाहर जाने का प्रोग्राम या फिर पुनः कोई घरेलू पार्टी का आयोजन इत्यादि। अगर इन सबकी चिंता सुहागरात की रात को दिमाग में रहेगा, तो आप सही से इन्ज्वाॅय नहीं कर पायेंगे। और अगर अगले दिन का प्रोग्राम आपके जरूरी है, तो आप इस रात को टाल दें और फिर कोई फ्री दिन वाले का चुनें।

यह भी पढ़ें- शीघ्रपतन

गोपनीय उपहार अवश्य दें-

सुहागरात में अधिक चिंता इस बात की रहती है कि शुरूआत कैसे की जाये? तो इससे अधिक उपयोगी और अच्छा विकल्प(सरप्राइज गिफ्ट) कोई नहीं होगा। दूल्हा अपनी दुल्हन को उसका पसंदीदा सरप्राइज गिफ्ट देकर उसको खुश करके उसके करीब आने का प्रयास कर सकता है और बातों का सिलसिला आगे बढ़ा सकता है।

रोमांटिक व प्यार भरी बातें-

गोपनीय उपहार देने के बाद अपनी दुल्हन से रोमांटिक व छेड़छाड़ भरी बातें करें। साथ ही हंसी-ठिठोली भी करें और हो सके तो अपनी कोई भी बचपन की शरारत भरी गुदगुदाने वाली बातें शेयर करें। ताकि आप दोनों के मध्य दूरियां हटें और नजदीकियां बढ़ें।

सेक्स पर ही ध्यान केन्द्रित न करें-

प्रथम मिलन की रात को जरूरी नहीं है कि सेक्स ही किया जाये। आप प्यार भरी बातों व शारीरिक छेड़छाड़ से भी शुरूआत कर सकते हैं इस मधुर रात की। एक-दूसरे की बांहों में बांहें डाले प्यार भरी बातें करते हुए भी रात गुजारी जा सकती है। ऐसा तब करने को हम कह रहे हैं, जब आप दोनों में से कोई भी ‘शारीरिक मिलन’ के लिए तैयार न हो। अन्यथा दोनों की सहमित और इच्छा होने पर सेक्स करने में कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए।

फोर-प्ले-

First Night Ke Hindi Tips

इस रात को फोर-प्ले अवश्य करें। इस रात को क्या, बल्कि हर रात या फिर जब भी आप सेक्स करने की सोचें तो अपनी पार्टनर के साथ फोर-प्ले करें। जैसे- एक-दूसरे को चूमना, होंठों को चूमना, स्तनों को सहलना, गुप्तांगों को सहलाना। इससे उत्तेजना के कारण आपके पार्टनर की यौन स्थली चिकनाई युक्त हो जायेगी और उसे प्रथम मिलन में अधिक तकलीफ भी नहीं होगी। इसके अलावा उत्तेजना अधिक हो जाने पर वह पूरी तरह संतुष्ट भी जल्दी हो जायेंगी और पूरा आनंद उठा पायेंगी। बस थोड़ा धैय से काम लें।

First Night Ke Hindi Tips

कुंवारापन भंग होने का भ्रम ना पालें-

अगर आपकी पार्टनर को पहली बार सेक्स में ब्लडिंग नहीं होती है, तो इसका अर्थ यह बिल्कुल न निकालें कि वह चरित्रहीन है और वह पहले से सेक्युअल एक्टिीविटी में शामिल है। धैर्य और समझ से काम लें और इस रात को पूरी तरह एन्ज्वाॅय करें। दुल्हन भी अपने कुंवारेपन के सबूत(योनि से ब्लडिंग होना) देने की सोचकर ज्यादा चिंतिन न हो। अपने पार्टनर को समझायें और खुद भी सहज बनी रहें।

यह भी पढ़ें- सफेद पानी

अपनी पसंद-नापसंद एक-दूसरे को बताएं-

सुहागरात में बातों के दौरान एक-दूसरे को अपनी पसंद-नापसंद जरूर बतायें। अगर आप दोनों में से किसी को भी सेक्स के दौरान कोई खास ट्रीटमेंट चाहिए तो वह देने का जरूर प्रयास करें। इससे आप दोनों को बेहतर महसूस होगा और रात भी मतवाली हो जायेगी।

एकदम से न सो जायें-

सुहागरात में संभोग-क्रिया के बाद एकदम तुरन्त सोने की भूल न करें। खासकर पुरूष इस बात का ध्यान रखें। अगर पुरूष भाई ऐसा करते हैं, तो हो सकता है इससे आपकी दुल्हन को अच्छा न लगे। उसे लगे कि मतलब पूरा हुआ और जनाब मुंह फेरकर सो गये। सेक्स के बाद एक-दूसरे से प्यार भरी बातें करें। सेक्स में आनंद आया या नहीं आया इस बारे में पूछे और वायदा करें कि अगली बार उनकी जो इच्छा रह गई उसे पूरी जरूर करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *