Dulhan Ke Liye Suhagrat Tips

Dulhan Ke Liye Suhagrat Tips

दुल्हन के लिए सुहागरात टिप्स

विवाह एक ऐसा पवित्र बंधन है, जिसमें हर स्त्री-पुरूष को एक न एक दिन बंधना ही होता है। विवाह और उसके बाद होने वाली सुहागरात दोनों बातों को लेकर स्त्री और पुरूष बेहद व्याकुल और उत्सुक रहते हैं। स्त्रियों की बात करें, तो ऐसी स्त्रियां जो शीघ्र ही विवाह के बंधन में बंधकर दुल्हन बनने वाली हों, बहुत ज्यादा अपने विवाह और सुहागरात को लेकर चिंतित होती हैं।

सुहागरात को लेकर उनके मन में बहुत-सी भ्रांतियां रहती हैं। जैसे कि सुहागकक्ष में संभोग होगा भी या नहीं? अगर हुआ तो कहीं बहुत ज्यादा कष्टदायी तो नहीं होगा? सुहागरात सुखदायी रहेगी या नहीं? इन सब प्रश्नों का उत्तर तबतक प्राप्त नहीं किया जा सकता है, जबतक कि खुद इस एहसास से न गुजरा जाये।

यदि ऐसी स्त्रियां जिन्होंने अपना कुंवारापन बचाकर रखा है और सुहागरात पर ही पति के साथ इसका खंडन होने वाला हो, तो ऐसी दुल्हनों के लिए उनकी सुहागरात का अनुभव बहुत गहरा और आजीवन तक याद रखने वाला होता है।

आप यह आर्टिकल suhagrat.co.in पर पढ़ रहे हैं..

इसे भी पढ़ें- धात रोग

ऐसी ही कुंवारी स्त्रियों के लिए हम नीचे बता रहे हैं कुछ बहुत ही खास टिप्स, जिनका अनुसरण करके वे बना सकती हैं First Night में अपने पहले सेक्स अनुभव को बेहद यादगार पल।

दुल्हन बनने जा रही स्त्रियों के लिए सुहागरात के मुख्य टिप्स-

Dulhan Ke Liye Suhagrat Tips

1. जब इमोशन्स की बाढ़-सी आपके मन और दिमाग में कोहराम बचा रहे हों, तो उस हालात में खुंद पर नियंत्रण रखना बेहद कठिन होता है। ऐसे में स्त्रियों(दुल्हन) को चाहिए कि खुद पर विश्वास रखते हुए संयम से काम लें और खुद के मन को काबू में रखने का प्रयास करें, क्योंकि ऐसे समय में यदि आप घबराहट और उत्सुकता में अपना दिमागी संतुलन खो देंगी तो आपकी परेशानी दूर होने की बजाये और बढ़ जायेंगी।
First Night और पहली बार के संभोग के अनुभव के विषय में आपको पहले से ही सब जानकारी होती है, इसलिए भी कई बार ये पहला एक्सपीरियंस बहुत निराशाजनक होता है। इस स्थिति में स्त्रियों के लिए यही सर्वोत्तम उपाय होगा कि वे पूरी तरह खुद को रिलेक्स रखें और रिलेक्स महसूस करें। इस रात को हाॅव्वा न बनायें और पूरे तन-मन से सेलिब्रेट करें। ऐसा करने से आप पति को पूरा सहयोग भी कर पायेंगी और खुद भी First Night का आनंद ले पायेंगी।

2. ऐसा माना जाता है कि अपने पहले सेक्स अनुभव में स्त्रियों को खून जाता है, क्योंकि इस दौरान उनका कौमार्य पहली बार भंग होता है। लेकिन ऐसा बिल्कुल भी जरूरी नहीं है। जो स्त्रियां इस बारे में नहीं जानती हैं, उनके लिए और ऐसी सोच रखने वाले पुरूषों के लिए बता दें कि आजकल लड़कियां भी पुरूषों की ही भांति कड़ी मेहनत करती हैं, साइकलिंग, राइडिंग, वाॅटर स्पोर्टस में भी हिस्सा लेती हैं, इन सब क्रियाकलापों के दौरान भी उनका हाइमन टूट जाता है, जिसका आभास तक स्त्रियों को नहीं हो पाता।
इसलिए अगर आप दुल्हन बनने जा रही हैं और आपको इस बात का डर है कि कहीं आपको फस्र्ट नाईट में ब्लीडिंग नहीं हुई, तो आपके चरित्र पर आंच आ सकती है, तो इस डर को अपने दिल-दिमाग से पूरी तरह निकाल दीजिए और पति को विश्वास में लेकर इस रात को पूरा एन्ज्वाॅय करें, ताकि आपकी First Night एक यादगार रात बन जाये।

इसे भी पढ़ें- शीघ्रपतन

3. फिल्मी दुनियां में दिखाई जाने वाली First Night की झलकियों को गंभीरता से न लें। जरूरी नहीं जो दृश्य फिल्मों की First Night में दिखाये जा रहे हैं, ठीक वैसा ही सबकुछ आपके साथ भी हो। इसलिए नादानी न करें और अपने तरीके से इस रात को आगे बढ़ायें। अपने सौंदर्य से, प्रेम से और अदाओं से पति को रिझाने का प्रयत्न करें, न कि किसी फिल्मी दृश्य को देखकर हू-ब-हू वैसा ही करने का असफल प्रयास करें। इस रात को परफेक्ट नहीं, बल्कि करेक्ट रात यानी यादगार बनाने का भरसक प्रयास करें।

Dulhan Ke Liye Suhagrat Tips

Suhagrat.co.in

4. शादी-ब्याह की लंबी रस्में निभाते-निभाते थकान और तनाव होना स्वाभाविक है और इसी कारण से कभी-कभी दुल्हन को सेक्स के प्रति इच्छा नहीं होती। या फिर यूं कह लें कि उनमें आराम करने की प्रवृति इतनी ज्यादा प्रबल हो जाती है कि उनके अंदर उत्तेजना सही से नहीं आ पाती, जिस कारण ल्यूब्रिकेंट नहीं होता और ल्यूब्रिकेंट न होने की वजह से उन्हें संभोग में काफी कष्ट सहना पड़ सकता है। पहली बार अनुभव कर रही दुल्हनों के लिए आवश्यक है कि वे ल्यूब का प्रयोग करें।

इसे भी पढ़ें- नामर्दी

5. आप संभोग करें और आपको ऑर्गज्म का अनुभव हो, ऐसा आवश्यक नहीं है। ऐसे भी कई लोग होते हैं, जिन्हें उनके पहले सेक्स अनुभव में ऑर्गज्म का आभास ही नहीं होता। संभोग में परिपूर्ण चरम तक पहुंचने में कई बातें जिम्मेदार होती हैं, इसलिए यदि आपको ‘प्रथम मिलन’ की रात्रि में ऑर्गज्म महसूस न हो, तो इसमें घबराने जैसी कोई बात नहीं है।

6. जरूर नहीं कि First Night में सेक्स होना ही चाहिए। सेक्स अहम नहीं है, बल्कि इस रात की मजबूत आधारशिला आपका प्रेम और एक-दूसरे के प्रति विश्वास और सम्मान होना चाहिए।
इस रात को आप एक-दूसरे की बांहों समा कर प्रेम भरी बातें कर सकते हैं। एक-दूसरे को प्रेम भरा स्पर्श देकर अपने दिल की बातें शेयर कर सकते है। एक-दूसरे की पसंद-नापसंद जान सकते हैं। या फिर केवल सेक्स टाॅपिक पर बात कर सकते हैं। हो सकता है ये कामुक बातें ही अपना काम कर जायें और आपकी First Night, संभोग की दृष्टि से भी मधुर रात बन जाये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *